Print

राजकीय महाविद्यालय फरीदपुर ,बर

;महात्मा ज्योतिबा फुले रूहेलखण्ड विश्वविद्यालय, बरेली से सम्बद्ध

(नैक द्वारा मूल्यांकित)

संक्षिप्त परिचय

 

महाविद्यालय बरेली जनपद के तहसील मुख्यालय फरीदपुर से लगभग तीन कि. मी. पूर्व में बरेली-शाहजहाँपुर राजमार्ग पर स्थित हैं। तहसील में उच्च शिक्षा की व्यवस्था न होने के कारण विद्यार्थियों को यहाँ से दूर जाना पड़ता था, जहाँ गरीब और निर्बल वर्ग के विद्यार्थियों का जाना संभव नहीं हो पाता था, जिसके कारण वह उच्च शिक्षा से वंचित रह जाते थे। इस समस्या के समाधान की मांग बहुत दिनों से की जा रही थी, जिस पर तत्कालीन सांसद मा. राजवीर सिंह ने ध्यान दिया तथा अपने प्रयासों से शासन द्वारा इस कस्बे में राजकीय महाविद्यालय स्थापित करवा कर अविस्मरणीय कार्य किया। उ. प्र. शासन ने राजाज्ञा सं. 2717/ सत्तर- 5-98-40 (159) /97 दिनांक 17.10.1998 द्वारा इस महाविद्यालय की स्थापना की।

 

महाविद्यालय के पास कुल 11.25 एकड़ भूमि है। जिसमें उत्तर प्रदेश शासन द्वारा बनवाया गया समस्त सुविधाओं से युक्त आकर्षक भव्य भवन एवं विशाल क्रीड़ांगन है। इस भवन का शिलान्यास तत्कालीन मुख्यमंत्री मा. कल्याण सिंह द्वारा सन् 1998 में किया गया तथा इसका लोकार्पण 24 मई 1999 को तत्कालीन उच्च शिक्षा एवं प्राविधिक शिक्षा मंत्री मा. नरेन्द्र सिंह गौर ने किया। महाविद्यालय में बी. ए. कक्षाओं के शिक्षण की व्यवस्था है। बी.ए.में पाँच सेक्शन स्वीकृत है। बी. ए. प्रथम वर्ष में बढ़ी हुई सीटों के साथ (पाँच सेक्शन ग्80 सीटे) कुल 400 सीटें स्वीकृत है। शासन द्वारा इस महाविद्यालय में प्राचार्य का 01, प्राध्यापक के 09, तृतीय श्रेणी के 02 तथा चतुर्थ श्रेणी के 05 पद सृजित है। वर्ष 2007 में महाविद्यालय को विश्वविद्यालय से स्थायी सम्बद्धता प्राप्त हुई। वर्ष 2008 में महाविद्यालय को यू. जी. सी. नई दिल्ली से सेक्शन 2 (ि) व 12 (इ)दर्जा प्राप्त हुआ। सितम्बर 2012 में महाविद्यालय का छ।।ब् मूल्यांकन कराया गया है। बी. एस.सी., बी. कॉम तथा एम. ए. की कक्षाएं सत्र 2019-20 से महाविद्यालय में संचालित है। 

 

 

 

 

 ADMISSION UPDATE